Plagrism Kaise Check Kare 100% Unique Part-7

हेलो दोस्तों इस पोस्ट में हम जानेंगें Plagrism Kaise Check Kare जाते हैं अगर आप अपने आर्टिकल को 100% यूनिक बनाना चाहते हैं तो इस पोस्ट को पूरा जरुर पढ़ें.

Plagrism Kaise Check Kare

Plagrism चेक करने के लिए आपको बहुत सी ऐसी वेबसाइट इन्टरनेट पर मिलती हैं जो फ्री में टूल प्रोवाइड करती हैं जिन्हें आप यूज़ करके अपने आर्टिकल को चेक कर सकते है लेकिन उससे पहले आपको अपना आर्टिकल खुद से लिखना चाहिए.

अगर आप पूरा आर्टिकल कहीं से copy किये रहेंगें तो यह टूल आपका 100% Plagrism बताएगा, इसलिए सबसे पहले अपना आर्टिकल खुद से लिखने की कोशिश कीजिये, इसके अलावा आप अपने आर्टिकल को 6 तरीके से Plagrism चेक कर सकते हैं.

1.अगर आपने अपना आर्टिकल किसी Microsoft Word में या Notepad में लिखा है तो आप copy करके इस Tools पर जाकर Plagrism चेक कर सकते हैं.

2.अगर आपके पास कोई file है जिसमे आपने अपना आर्टिकल सेव किया है तो आप इस टूल पर जाकर choose file पर क्लिक करके अपना file अपलोड कर सकते हैं और Plagrism चेक कर सकते हैं.

3.इसके अलावा अगर आपने अपना file DropBox में रखा है तो उसे भी आप इस टूल पर अपलोड करके Plagrism चेक कर सकते हैं.

4.इसके बाद अगर आपने अपना file Google Drive में रखा है तो आप उसे यहाँ डायरेक्ट अपलोड करके Plagrism चेक कर सकते हैं.

5.इसके अलावा आपको Web URL का option मिलता है इसमें आप अपने आर्टिकल का लिंक paste करके Plagrism चेक कर सकते हैं.

6.Exclude URL, इस option में आप एक साथ 5 URL को paste करके Plagrism चेक कर सकते हैं.

Plagrism Kya Hota Hai

Plagrism का मतलब साहित्यिक चोरी होता है मतलब जो content इन्टरनेट पर पहले से पब्लिश किया गया है अगर आप उसे copy करते हैं और कहीं यूज़ करते हैं तो वो Plagrism कहलाता है.

इसके अलावा किसी दुसरे के आर्टिकल पर अपना मालिकाना हक़ जताना भी साहित्यिक चोरी कहलाता है, इसलिए आपको किसी का content कहीं से copy नहीं करना चाहिए अगर आप ऐसा करते हैं तो आपको कॉपीराइट मिलता है.

Copyright Kya Hota Hai

अगर आप किसी दुसरे का content copy करते हैं और उसे अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर पब्लिश करते हैं तो आपने जिसका content copy किया है उसके पास अपने content का मालिकाना अधिकार होता है, वो चाहे जब आपको कॉपीराइट स्ट्राइक दे सकता है.

Plagrism Kaise Check Kare Free me

सबसे पहले आपको अपना आर्टिकल कहीं भी पूरी तरह से लिख लेना है आप चाहे तो माइक्रोसॉफ्ट वर्ड या नोटपैड का भी यूज़ कर सकते हैं इसके बाद जब आपका आर्टिकल पूरा हो जाये तो आप अपने आर्टिकल का Plagrism चेक कर सकते हैं.

इसके अलावा दोस्तों इसमें मैं आपको सिर्फ दो टूल वेबसाइट के बारे में बताऊंगा, बाकि आप Plagrism चेक करने के लिए इन्टरनेट पर बहुत से वेबसाइट पर जा सकते हैं लेकिन जो मैं टूल बताने जा रहा हूँ अगर आप उससे Plagrism चेक करते हैं तो आपको Adsense Approval लेने में काफी मदद मिलेगी.

1. Duplichecker Tool

1.सबसे पहले आपको अपने आर्टिकल को copy कर लेना है जहाँ पर आपने आर्टिकल लिखकर रखा है इसके अलावा मैं आपको बता दूँ आपको इसी तरह से अपने आर्टिकल को हमेशा चेक करना है.

2.कॉपी करने के बाद इस tool वेबसाइट पर जाने के लिए आपको सबसे पहले Google में Plagrism Checker लिखकर सर्च करना है.

3.अब आपके सामने कई वेबसाइट आ जाएँगी लेकिन इसमें आपको Duplichecker के वेबसाइट पर क्लिक करना है जिससे आपके सामने यह वेबसाइट open हो जाएगी, आप image में भी देखकर कर सकते हैं.

Plagrism Kaise Check Kare-2

Duplichecker Tool

1.इस वेबसाइट पर आने के बाद सबसे पहले आपको अपना आर्टिकल इस खाली बॉक्स में paste कर देना है ध्यान दीजियेगा, अगर आप किसी फ्री टूल का यूज़ करते हैं तो उसमे सिर्फ एक बार ,में 1000 वर्ड तक ही चेक कर सकते हैं अगर आपका आर्टिकल बड़ा है तो आप चाहे अपने आर्टिकल को दो बार में चेक कर सकते हैं.

2.इसके बाद थोडा और नीचे आना है यहाँ आपको कैप्चा वेरीफाई करने का option मिलता है इस पर क्लिक करके अपना कैप्चा वेरीफाई कर लेना है.

3.वेरीफाई करने के बाद आपको Check Plagrism के option पर क्लिक करना है जिससे आपका आर्टिकल scan होने लगता है.

4.आपका आर्टिकल Scan होने के लिए एक नया पेज खुलता है जिसमे आपको परसेंट के हिसाब से चेक होता दिखाई देता है इसे 100% तक पूरा होने दीजिये.

5.अब आपका आर्टिकल चेक हो जायेगा इसके बाद आप देख पायेंगें कितना परसेंट Plagrism है और कितना परसेंट यूनिक है, इसमें जितना परसेंट आपका यूनिक है वो सही है और जितना परसेंट Plagrism है उतना आपको सही करना होगा.

6.Plagrism देखने के लिए Plagrism के परसेंट पर ध्यान दें जो कि आपको Red कलर का दिखाई देगा और यूनिक परसेंट ग्रीन कलर का दिखाई देता है.

7.इसके बाद और नीचे देखेंगें तो यहाँ आपका आर्टिकल दिखाई देगा इसमें अगर Plagrism रहता है तो जितना वर्ड आपका Plagrism रहेगा उतना वर्ड आपका सेलेक्ट रहता है जो कि ज्यादातर Yellow कलर का होता है.

Plagrism Kaise Check Kare-3

2. Smallseotools

1.एक बार फिर से पहले आपको अपने आर्टिकल को copy कर लेना है इसके बाद किसी ब्राउज़र में चले जाना है.

2.ब्राउज़र में जाने के बाद Google में Plagrism checker टाइप करके सर्च पर क्लिक करना है इसके बाद आपके सामने बहुत से वेबसाइट शो होंगें.

3.इसमें आपको Smallseotools के वेबसाइट पर जाना है जब आप इस वेबसाइट को open करते हैं तो यहाँ आपको एक बॉक्स दिखाई देता है इसमें आपको अपना आर्टिकल paste कर देना है.

4.आर्टिकल को paste करने के बाद Check Plagrism पर क्लिक करना है अब आपके सामने एक और option खुलता है.

5.इस option में आपको verify करना रहता है कि आप आदमी है या कोई रोबोट, वेरीफाई करने के लिए i am not robot के बॉक्स पर क्लिक करना है.

Plagrism Kaise Check Kare-4

6.यह वेरीफाई होने के बाद आपका आर्टिकल चेक होने लगता है यह भी परसेंट के हिसाब से चेक करता है इसे 100 तक पूरा होने दीजिये.

7.अब आपका आर्टिकल चेक हो जायेगा और आपको इस टूल पर भी red और ग्रीन कलर का Plagrism और यूनिक दिखाई देता है.

8.इसके थोडा नीचे आयेंगें तो यहाँ आपको अपना आर्टिकल दिखाई देता है अगर इसमें Plagrism है तो आप देखकर सही कर सकते हैं.

9.दोनों tools में कोई ज्यादा फर्क नहीं है सब एक ही जैसा है, इसके अलावा आप किसी भी tools पर जाते हैं तो वहां पर भी ऊपर दिए गए 6 तरीके से अपना आर्टिकल चेक कर सकते हैं.

Plagrism Kaise Check Kare-5

Read more-

Blog Post Kaise Likhe-SEO Friendly Part-6

Keyword Research Kaise Kare-Paid Method फ्री में Part-5

Blogger vs WordPress in Hindi Part-1

Conclusion

दोस्तों मैं भी अपने आर्टिकल को चेक करने के लिए इन्हीं दो tools का यूज़ करता हूँ और मैं लगभग इन tools को 4-5 सालो से यूज़ कर रहा हूँ.

इसके अलावा दोस्तों अगर आप इस tools को लैपटॉप या कंप्यूटर पर खोलते हैं तो ये थोडा ज्यादा समय ले सकता है इसलिए इस Tools को ज्यादातर आप मोबाइल पर यूज़ कीजिये.

मैं भी ज्यादातर मोबाइल पर ही यूज़ करता हूँ, तो दोस्तों ये था Plagrism Kaise Check Kare, से रिलेटेड पूरी जानकारी, उम्मीद करता हूँ कि ये जानकारी आपको पसंद आई होगी.

Thanks for Reading.

Leave a Reply